बुधवार, 8 जून 2011

बुधवार का व्रत क्यों करना चाहिए?

धवार को शास्त्रों के अनुसार गणेश जी का दिन माना जाता है। ज्योतिष के अनुसार बुध को व्यापार का कारक माना जाता है। साथ ही बुध को बुद्धि का कारक भी माना जाता है।
जिसकी कुंडली में बुध शुभ फल देने वाला होता है वह बिजनेस के साथ ही वाणी व लेखन से जुड़े कामों में विशेष सफलता प्राप्त करता है। लेकिन यदि कुंडली में बुध अशुभ फल देने वाला हो तो ऐसे व्यक्ति को बिजनेस में व कार्यक्षेत्र में अपेक्षित सफलता नहीं मिल पाती है।
इसीलिए व्यापार व कार्यक्षेत्र में अपेक्षित सफलता प्राप्त करने के लिए श्री गणेश की आराधना करने को कहा जाता हैं क्योंकि गणेशजी को बुद्धि और विद्या के स्वामी हैं। गणेशजी की प्रसन्नता प्राप्त करने के लिए बुधवार का व्रत करने के साथ ही बुधवार के दिन उन्हें दूर्वा चढ़ाकर लड्डू का भोग लगाना चाहिए। इससे व्यापार व कार्यक्षेत्र में शीघ्र ही सफलता प्राप्त होती है क्योंकि ज्योतिष के अनुसार गणेशजी के प्रसन्न होने पर बुध शुभ फल देने लगता है।
www.bhaskar.com

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें