बुधवार, 29 अप्रैल 2015

गाँवो और कस्बों में भी बनाये थियेटर

तभी छत्तीसगढ़ी फिल्मो को दर्शक मिल पाएंगे : धनलक्ष्मी
रायपुर। छत्तीसगढ़ी फिल्मो में अपनी विशिष्ट पहचान बना चुकी नायिका धनलक्ष्मी जुमनानी कहती है कि गाँवो और कस्बों में भी थियेटरों की व्यवस्था हो तभी छत्तीसगढ़ी फिल्मो को दर्शक मिल पाएंगे। रियल जिंदगी में काफी गुस्सैल धनलक्ष्मी बड़े परदे पर उतना ही सौम्य,सरल और प्यार की प्रतिमूर्ति नजऱ आती है।
मॉडलिंग से अपने कॅरियर की शुरुआत करने वाली यह नायिका हिन्दी फिल्मो में भी काम करने की ख्वाहिश रखती हैं। बॉलीवुड की  पादुकोण न केवल उनकी पसंद है बल्कि वे उनको फॉलो भी करती हैं। कई फिल्मो में मुख्य भूमिका निभा चुकी धनलक्ष्मी से हमने हर पहलूओं पर बेबाक बात की है।
---------------------------------------------
एक मुलाक़ात - अरुण कुमार बंछोर
---------------------------------------------
संक्षिप्त परिचय
-----------------
नाम             - धनलक्ष्मी जुमनानी
काम            - नायिका
कॅरियर          - मॉडलिंग से फिल्म
उपलब्धी        - छत्तीसगढ़ी फिल्मे चार
                - एल्बम 20 से अधिक
                - टेलीफिल्मे  7
-------------------------------------------------

0 आपको एक्टिंग का शौक कब से है ?
00 बचपन से है, टीवी देखकर मेरे मन में एक्टिंग करने की इच्छा जाएगी और मै आज आप सबके सामने हूँ।
0 मौका कैसे मिला और आपके प्रेरणाश्रोत कौन है ?
00 निर्माता, निर्देशक एजाज वारसी ने मुझे फिल्मो में मौका दिए थे , लेकिन मेरे आदर्श मेरे माता-पिता ही है। राजनांदगांव के एक स्टूडियो संचालक ने मुझे इस लाईन में काम करने की प्रेरणा दी और मेरा हौसला अफजाई किया।
0 आप फिल्मो में नायिका की भूमिका निभाती है, तो आपको कैसा महसूस होता है?
00 मैं अपनी भूमिका में पूरी तरह डूबकर काम करती हूँ। भूमिका निभाते समय जीवंत अभिनय करती हूँ ,ताकि अपनी भूमिका के साथ न्याय कर सकूँ।
0 आपने जिन फिल्मो में काम की है। सबसे अच्छा फिल्म कौन सा लगा ?
00 अपने फिल्मो की तुलना करना तो मुश्किल है पर माटी मोर मितान में मै अपने किरदार में पूरा जीवन जिया है। इस फिल्म में मुझे बहुत शाबाशी मिल रही है। और मै भी अपने अभिनय से संतुष्ट हूँ।
0 कोई ऐसा अवसर आया हो ,जब आप बहुत उत्साहित हुई हो?
00 हाँ माटी मोर मितान फिल्म कर मै बहुत रोमांचित हुई हूँ। उससे मेरा हौसला और बढ़ा है।
0 ऐसा कोई क्षण जब निराशा मिली हो?
00  हाँ एक बार मै मॉडलिंग में फाइनल राउंड के लिए सलेक्ट हो गयी थी पर घरेलू काम की वजह से नहीं जा पाई थी तब मुझे बहुत निराशा हुई थी।
0 फिल्मो में तो आप छाई हुई हैं, शादी के बारे में क्या सोची है?
00 शादी तो करूंगी पर अभी 3-4 साल शादी करने करने का इरादा नहीं है।
0 रील लाइफ और रीयल लाइफ में क्या अंतर है?
00 दोनों अलग-अलग चीज है। रियल लाइफ को रील लाइफ से नहीं जोड़ सकते।
0 फिल्मो में जो भूमिका निभातीे है तो क्या उसे अपने वास्तविक जिंदगी में भी अपनाती है?
00 हाँ जरूर ! कोशिश करती हूँ पर अंतर है। वास्तविक जीवन में मैं बहुत गुसैल हूँ किसी भी बात पर समझौता नहीं करती और फिल्मो में ऐसा नहीं कर सकती। क्योकि जो रोल मिलता है वही करना होता है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें