सोमवार, 11 मई 2015

रोमांटिक शायरी






एक आरज़ू सी दिल में अक्सर छुपाये फिरता हूँ
प्यार करता हूँ तुझसे पर कहने से डरता हूँ
कही नाराज़ न हो जाओ मेरी गुस्ताखी से तुम
इसलिए खामोश रहके भी तेरी धडकनों को सुना करता हूँ ...!
******************************************************


दीवाने है तेरे नाम के इस बात से इंकार नही
कैसे कहे तुमसे प्यार नही कुछ तो कसूर है आपकी
आँखों का अकेले तो गुनाहगार नही ...!
************************************

खोया हूँ तुम्हारे ख्यालो में जमाने का कोई होश नही
न समझो मुझे तुम दीवाना इतना भी मै मदहोश नही
चला तेरा जादू कुछ ऐसा धड़कन मेरी खामोश नही
नज़रे बन गई अब तेरी मुहमे इनका आधोश नही ...!
***********************************************


 फूल से किसी ने पूछा, तू ने सब को खुश्बू दी
पर तुझे क्या मिला, फूल ने कहा :
देना लेना तो व्यापार है, जो देकर कुछ ना माँगे,
वो प्यार है..........!!
*****************************************


 कोई नजरो से इशारा कर लेता है
कोई आँखों से कुछ कह देता है
बड़ा ही मुश्किल हो जाता है जबाब देना
जब कोई इंग्लिश में कुछ लिख देता है ..!!
****************************************


आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी..!!
*************************************


 जा सकी ना मै दूर और वो आये ना करीब ,
मेहरबान कैसे हो जाता मेरी मुहब्बत पर मेरा नसीब ..!!
*******************************************


बिन देखे तेरी तस्वीर बना सकते है
बिन मिले तेरा हल बता सकते है
हमारे प्यार में इतना दम है कि
तेरे आँसू अपनी आँखों से गिरा सकते है ..!
********************************************



बहुत खूबसूरत है आँखे तुम्हारी
इन्हें बना दो किस्मत हमारी
हमे नही चाहिए ज़माने कि खुशियाँ
अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी ...!
*************************************


आपकी जुदाई भी हमे प्यार करती है
आपकी यादे भी हमे बेक़रार करती है
जाते जाते कही भी हो जाए मुलाकात आपसे
तलास आपको ये नज़र बार बार करती है ...!
*****************************************


वो आपका पलके झुका के मुस्कुराना
वो आपका नज़रे झुका के शर्मना
वैसे आपको पता है या नही हमे पता नही
पर इस दिल को मिल गया उसका नजराना ..!
******************************************


गुज़र रहे है आज इश्क के उस मुकाम से
नफरत सी हो गयी है मोहब्बत के नाम से
*****************************************


माना कि मर जाने पर भुला दिए जाते है लोग ज़माने में
पर मै अभी जिन्दा हूँ फिर कैसे उसने मुझे भुला दिया ...!
**********************************************


तुम्हारी जिद बेमानी है दिल ने हार कब मानी है
कर ही लेगा एक दिन बश में तुम्हे आदत इसकी पुरानी है ...!!
***************************************************


मैंने अपनी हर एक साँस तुम्हारी गुलाम कर रखी है
लोगो ने ये जिन्दगी बदनाम कर राखी है
अब ये आइना भी किस काम का मेरे
मैंने तो अपनी परछाई भी तुम्हारे नाम कर रखी है ..!
**********************************************


तेरी आवाज कि शहनाइयों से प्यार करते है
तस्सबुर मई तेरे तनहाइयों से प्यार करते है
जो मेरे नाम से तेरे नाम को जोड़े ज़माने वाले
अव हम उन चर्चो से भी प्यार करते है ..!
*******************************************



 जो बात आज तक मै कह न सकी लो आज वो सबके सामने कहती हूँ
जो चेहरा तुम आईने में रोज देखते हो उसी से प्यार मै करती हूँ ...!
*********************************************************


 छुपके जो उनसे मिलती रही तो दोष क्या हमारा
कुछ अपनी जरूरत और कुछ होता उनका इशारा ...!
***********************************************



रहो मेरी जुल्फों के साये में आज तुम रहो
और टूट के मुझे प्यार करो
आज मै मै न रहूँ आज मै तुम हो जाऊ
अपने प्यार से ऐसा मेरा श्रृंगार करो ...!
****************************************

 एक दीवाने की जव निकली दिल की बात
दर्द को मिला पी गया पानी के साथ...रिया ..!
*****************************
मै तोड़ लेता अगर तू गुलाब होती
मै जवाब बनता अगर तू सवाल होती
सब जानते है मैं नशा नही करता,
मगर मै भी पी लेता अगर तू शराब होती....!
************************************


♥ ♥ आँखों से देखा दिल से दुहाई नजर की कीमत हमने चुकाई ♥ ♥
♥ ♥ एक कमी थी जो मेरे दिल के महल में उसमे तेरी तस्वीर लगाई ..! ♥ ♥
************************************************************

 मेरे अपने जिन्दगी का यही एक वसूल है
जब तू कबूल है तो तेरा सब कुछ कबूल है ...!
************************************

घर से बाहर कोलेज जाने के लिए वो नकाब मे निकली
सारी गली उनके पीछे निकली
इनकार करते थे वो हमारी मोहबत से
और हमारी ही तसवीर उनकी किताब से निकली……!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें