गुरुवार, 29 जुलाई 2010

दिमाग की कमाई

एक लड़के ने किसी गरीब किसान से एक गधा 1000 रुपए में खरीदा। लड़के ने गधे को अगले दिन ले जाने की बात कही और किसान ने हां कर दी। अगले दिन लड़का गधा लेने आया, परंतु गधा तो रात में मर चुका था।
गरीब किसान ने मॉफी मांगते हुए कहा: बेटा गधा तो रात को मर गया। अब जैसा तुम बताओ वैसा ही करते हैं।
लड़के ने कहा: ठीक है फिर मेरे 1000 रुपए लौटा दो।
किसान ने कहा- बेटा पैसे तो खर्च हो गए अब मेरे पास कुछ नहीं बचा।
लड़के ने कहा: ठीक है फिर मरा हुआ गधा ही ठेले पर रख दो।
किसान ने कहा: मरे हुए गधे का क्या करोगे?
लड़के ने कहा: मैं इस गधे को लॉटरी निकालकर बेच दूंगा और इससे पैसा कमा लूंगा।
किसान ने कहा: ऐसा कैसे हो सकता है? मरा गधा कौन खरीदेगा?
लड़के ने कहा: मैं बेच दुंगा, आप बस गधा ठेले पर चढ़ा दो।
लड़का मरा हुआ गधा लेकर बाजार के चौराहे पर चला गया और वहां जोर-जोर चिल्लाने लगा 100 रुपए दो और जिसकी लॉटरी निकल जाएगी एक गधा उसका हो जाएगा। लोगों ने सोचा 100 रुपए में गधा मिल जाएगा कोशिश कर लेते हैं शायद हमारी लॉटरी निकल जाए। यह सोच कर करीब 50 लोगों ने उस लड़के को 100-100 रुपए दे दिए। इस तरह उसके पास 5000 रुपए जमा हो गए। और उसने किसी एक व्यक्ति की लॉटरी निकाली दी। वह व्यक्ति गधा लेने आया तो लड़के ने उससे माफी मांगते हुए कहा गधा तो मर गया है आपके 100 रुपए वापस ले लीजिए। मरा गधा लेकर क्या करुंगा? यह सोचकर लॉटरी विजेता 100 रुपए लेकर चला गया।
इस तरह लड़के ने समझदारी से 4900 रुपए कमा लिए।

1 टिप्पणी:

  1. मेरे हिसाब से ऐसी कमाई को ठगी की कमाई कहना चाहिए !

    उत्तर देंहटाएं